Valentine Day Story

Vandana Chauhan Ka Ishq Haqiqi- Valentine Day Special

Listen to this article

नमस्कार दोस्तों! मेरा नाम वंदना है | आज के दिन , हर प्रेमी अपनी प्रेमिका से प्यार का इजहार करते हैं। इस दिन हर वह इंसान जो दूसरे से प्यार करता है, वह प्यार का इजहार करता है ।

अपनी सुविधा अनुसार , अपने विचारों के अनुसार, जरूरत के अनुसार हर कोई इंसान जो गुण दूसरे इंसान में देखता है तो उसके दिल में उस इंसान के लिए प्यार जागृत हो जाता है और आज उसका इजहार करता है। वह प्रेमी अपने प्यार को पाने के लिए अंदर ही अंदर एक ख्वाबों की दुनिया बना लेता है और उसे पाने के लिए पूरी कोशिश करता है।

दोस्तों ! यहां पर बात आई है प्यार की ,
प्यार क्या होता है ?
हर किसी के लिए प्यार को लेकर अलग-अलग मायने होते हैं। हर इंसान प्यार की अपने हिसाब से अलग-अलग परिभाषाएं देते है। आज मैं भी आपको अपने प्यार के बारे में बता रही हूं और सबके सामने अपने प्यार का इज़हार भी करती हूं |

करोड़ों महिलाएं उनके चरित्र के लिए अपनी गर्दन कटवाने के लिए तैयार है

मेरा वह प्रेमी इतना खूबसूरत है , कि इस जहान में उसकी तुलना के लिए कोई भी नहीं। वह इतना गुणवान है कि जब उसको मैं सुनती हूं तो ऐसा लगता है कि तीनों लोक तथा दोनों जहानों का ज्ञान उसमें समाया है । जब वह बोलते हैं उनकी वाणी में एक ऐसी कशिश है, जो हर किसी को मोह लेती है । उनकी वाणी में इतनी मधुरता है, कि जब कोई उनकी वाणी को सुन लेता है, तो उसी में ही खो जाता है। उनकी बातों में इतनी सच्चाई है, कि करोड़ों लोग उनकी आवाज पर अपने आप को न्योछावर करने के लिए तैयार रहते हैं। उनका चरित्र इतना धनवान है,कि करोड़ों महिलाएं उनके चरित्र के लिए अपनी गर्दन कटवाने के लिए तैयार है ।

मेरे प्रेमी में इतने गुण है, कि मैं पूरी पृथ्वी को कागज बनाऊं और सारी वनस्पति की कलम बनाऊं व समुंद्र को स्याही बनाकर पवन की रफ्तार से लिखना शुरू करूं और वर्षों तक लिखती रहूं तब भी उनके गुणों को नही लिख सकती , क्योंकि मेरा प्रेमी सर्वगुण संपन्न है ।

मेरे प्रीतम के चेहरे पर इतना तेज है कि एक बार जो उसे देख लेता है वह देखता ही रह जाता है। मेरे प्रीतम ने हर किसी के दु:खों को दूर किया है। मेरे प्रीतम ने समाज के हर दु:ख को अपने अंदर समेटा है । हर किसी के जीवन में आने वाली हर परेशानी को आने से पहले ही उसके जीवन से खत्म कर दिया है ।
मेरे प्रीतम ने करोड़ों अरबों लोगों को अपने जीवन की भाग्य रेखा को बदलने की चाबी पकड़ाई है। जिससे वह अपने भाग्य को खुद लिख सकते है या बदल सकते है । मेरे प्रीतम ने संसार के हर दुख को अपने अंदर समेटा है । दु:ख को समेटने के बाद भी उन्होने कभी भी अपने चेहरे पर आज तक उसे महसूस नहीं होने दिया है । क्योंकि वह दुःख – सुख , इज्जत – बेज्जत व सभी समस्याओं से दूर है ।

मैं आज ऐसे प्रीतम को , ऐसे प्यार के समुंद्र को पा कर धन्य हो गई हूं । ना जाने में कहां-कहां भटकती रहती ? इस जीवन में। किन-किन दु:खों सेे मैं परेशान होती ?

मेरे उस प्रीतम ने मेरे जीवन की हर परेशानी को दूर किया है । और मेरे साथ साथ करोड़ो अरबो लोगो के जीवन को बदला है । उनकी हर परेशानी को खत्म करके उनको स्वर्ग से बढ़कर जीवन दिया है ।

ऐसा प्रीतम मिलना सौभाग्य की बात है ।
क्योंकि आज के समय में हर कोई इंसान, स्वार्थ से बंधा है ।
हर कोई किसी ना किसी स्वार्थ के पीछे दौड़ रहा है ।
लेकिन मेरा प्रीतम सभी स्वार्थों व लोभ लालच , भेद – भाव व सभी काम वासनाओं से दूर है ।

ऐसे प्यारे प्रीतम को जो पा जाता है। उसका जीवन निहाल हो जाता है । सच में ही मैं बहुत सौभाग्यशाली हूँ, जिसने ऐसा प्यार पाया है । जो इंसान ऐसा प्यार जीवन में पा लेती है वह सदा सुहागन की तरह जीवन जीता है ।

आप सबको मैं अपने प्यार की बातें इसलिए बता रही हूँ, क्योंकि आप भी गंदगी भरे प्यार व कुछ स्वार्थी प्यार को छोड़ कर अलौकिक प्यार की तरफ अग्रसर हो सके ।जिससे आप भी अपने जीवन में आने वाली हर परेशानी हर दुःख और चिंता व हर उस समस्या से दूर हो सके जो आपके जीवन में आने वाली है।

आज Valentine Day पर मैं भी अपनी तुच्छ जुबान से अपने प्रीतम का जो मेरे दिल में उसके लिए प्यार है जिसे शब्दो मे कैद नही किया जा सकता उसका इजहार कर रही हूं ।

I LOVE MY PRITAM

मुझे आशा है की आप सभी भी उससे एक दिन जरूर प्यार करेंगे ।जरूर आपके मन में भी मेरे प्रीतम को जानने की उत्सुकता जागी होगी ।

ऐसा प्रीतम कौन है? आखिर आज के समय में ऐसा प्यार करने वाला कौन?
जी हां ! वह है मेरे दिल में बसने वाले मेरी रगो में दौड़ने वाले , मेरी हर आती जाती सांसों में बसने वाले , मेरे अति पूज्य , मेरी जान के रखवाले , मेरी सांसो से भी ज्यादा मेरी हिफाजत करने वाले , मेरे मालिक , मेरे भगवान ,मेरा अल्लाह , गॉड , मेरा सब कुछ आखिर उसे क्या नाम दूं?
नाम देकर मैं उसे शब्दो में समेट नहीं सकती । लेकिन फिर भी नाम तो बताना जरूरी है ।

वह है , Saint Dr. Gurmeet Ram Rahim Singh Ji Insan सर्वकला संपूर्ण मेरे सतगुरु ।

मैं अपने प्यार का इजहार आज आपके सामने इसलिए कर रही हूं जिससे दुनिया को पता चले , कि उनके आशिक एक नहीं करोड़ो है । आज भी उनके स्वरूप को देखकर के करोड़ो लोगो के दिलो की धड़कन धड़क रही है।

आज भी करोड़ो आंखे उनकी याद में रो रही हैं ।
आज भी करोड़ो कान उनके आने की आहट सुनने के लिए बैठे हैं ।
करोड़ो आंखे उस रास्ते पर टकटकी लगा कर के बैठे है, जिससे वो आएंगे ।
आज भी करोड़ो लोग उनके बताए मार्ग पर। चल रहे हैं।
करोड़ो आशिक आज भी उनके बताए मार्ग पर चलकर वह बे-मिसाल कार्य कर रहे है ।
जिन्हें सोच कर के लोग दंग रह जाते।

मुझे आशा है आप सब मेरे प्यार को समझ गए होंगे क्योंकि मेरा प्यार मेरे प्रेमी से निस्वार्थ है। निष्काम काम है। हर वासना से दूर है। मेरा प्रीतम मेरे लिए बहुत बड़ी सौगात है। इसलिए आप सभी से मेरा निवेदन है। कि अपने जीवन में ऐसा प्यार जरूर करे । मुझे आशा है कि आप को मेरा प्यार की कशिश अच्छी लगी होगी ।
मैंने अपने दिल की गहराइयों से और सौ प्रतिशत सच लिखा है और आशा करती हूं कि आपको यह प्यार भरी सच्ची बातें बहुत अच्छी लगी होंगी।

इस प्यार का नाम है :- इश्क हकीकी ।

आप अपने प्रेमी से कितना प्यार करते है कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं

धन्यवाद
आपकी प्यारी ।

18 Comments

  • सतगुर का प्रेम सच्चा आयी बहार जिंदगी में।
    खुश नसीब है , जो मिला गुरु प्यार जिंदगी में ।

  • Yes Right !!! Only God’s love is true.

  • हम आज इजहार करते है अपने प्रीतम के प्यार का । अरबों जाने उस प्रीतम पर कुर्बान करते है । जिसने करोडो को जिंदगी में हकीकी प्यार की उमंग जगाया । आज एक नही करोडो लोग उस प्रीतम की झलक पाने को बेताब है ।

  • Very Nice story with full of suspense…

  • Me tooo love infinitely towards my Pritam

  • Oooo woooo such a beautiful story . Make my day . #HappyValetineDay I Love my Pritam

  • Soo sweet m great story…

  • True ! The definition of true love is quite different from this selfish world’s love that goes towards physical attraction. In fact, this is insult of true love. In short, someone said very well:-

    लागी लागी सब कहे ,
    लागी लगे ना अंग !
    लागी तो जब जानिए ,
    जब रहे गुरु के संग !!

  • True ! The definition of true love is quite different from this selfish world’s love that goes towards physical attraction. In fact, this is insult of true love. In short, someone said very well:-

    लागी लागी सब कहे ,
    लागी लगे ना अंग !!
    लागी तो जब जानिए ,
    जब रहे गुरु के संग !!!

  • I love st @GurmeetRamRahim ji
    It is not a story
    It is true love with God .
    Thanks ” The Fact Eye “

  • में भी अपने गुरु के लिए गर्दन कटाने के लिए त्यार हूँ ।
    आज उन्होंने केवल देश व जनता का भला किया है ।
    समाज को हर बुराई से बचाया है ।

  • Satguru ji prem tera bade bhagi jeev pavein…

  • क्या बताऊं के कैसा है मेरा प्रीतम ।
    ना ऐसा है ना वैसा है मेरा प्रीतम ।

    सारा जीवन जिसका समर्पित है समाज को,
    निर्भय, निर्वैर है , अतुल्यनीय है मेरा प्रीतम ।

    सलाम ए इश्क ‘: हकीकी इश्क

  • Dr.Lalit Mohan Johri

    (February 14, 2020 - 11:38 am)

    प्रेम का मुख्य स्रोत वो बेअन्त स्वामी ही है। सारी दुनिया प्रेम से ही ख़ुशगवार है।
    GOD IS LOVE, LOVE IS GOD
    पर ये तब तक सिर्फ चंद शब्द हैं जब तक कोई पूर्ण पीर फ़क़ीर संत न मिले क्योंकि सारी दुनिया मज़ाजी इश्क में गाफ़िल हुई है। हक़ीक़ी इश्क़ का पता तब तक लगता ही नहीं जब तक सर्व गुण सम्पन्न,बंदे के रुप में इस धरा पर वो मालिक संत रुप धार कर नहीं आता।
    उसके द्वारा दिये गए गुरुमंत्र, राम नाम,क़लमा,Method of medicine के सिमरन करने से ही वो हक़ीक़ी प्रेम रुह के अंदर पैदा होता है।

  • ਇਕ ਮਾਲਿਕ ਦਾ ਪਿਆਰ ਹੈ ਸੱਚਾ ਹੈ ਝੂਠਾ ਪਿਆਰ ਦੁਨੀਆਂ ਦਾ

  • We have given the name to our beloved. We love him so much that it cannot be written in words. And no, we can tell him by speaking.🤗🤗🤗🤗🤗

  • True story..Only God’s love is true..

  • विजय अरोरा इंसा

    (February 15, 2020 - 7:12 am)

    मेरी लगी परीती नूं दातया , तूं बिल्कुल ना तोडी

    हैप्पी टृ्यू लव डे टू आल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *