ताज महल एक प्रसिद्ध इमारत

ताज महल, जो भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के आगरा शहर में स्थित है, एक विश्व प्रसिद्ध समर्थक और संगीत द्वारा प्रेरित भव्य इमारत है। यह एक मकबरा है जो मुग़ल सम्राज्य के बादशाह शाहजहाँ की प्रेमज्योतिर्मयी बेगम मुमताज़ महल की स्मृति में बनवाया गया था।

ताज महल एक प्रसिद्ध पर्यटन स्थल है और इसे यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर स्थल के रूप में मान्यता प्राप्त है।

ताज महल का निर्माण 1631 में शुरू हुआ था और इसका पूरा निर्माण 1653 में सम्पन्न हुआ था। इससे पहले, शाहजहाँ ने मुमताज़ महल की स्मृति में आगरा के पास स्थित यमुना नदी के किनारे एक प्राकृतिक चबूतरे पर उसकी मौत के बदले में एक सदाबहार चबूतरा बनवाया था।

ताज महल के निर्माण में करीब 20,000 मजदूरों, विश्वकर्माओं और कला-शिल्पीयों का प्रयोग किया गया था।

ताज महल की विशालकाय गुंबद और इसकी अत्यंत नैनसुखी गुलाबी संगमरमर आपूर्ति, मुग़ल शैली में अद्भुत है |

ताज महल का निर्माण पूरी तरह से सफेद संगमरमर पर आधारित है और इसे अनेक वैदुर्यवाली नक्काशी और नक्काशी के उदाहरणों से सजाया गया है। इसमें मुग़ल, परसी, और इस्लामी विश्वकर्मा कला के विचित्र मिश्रण हैं।

ताज महल की विशालकाय गुंबद उच्चतम बिंदु पर स्थित है और इसे नैनसुखी यानी मर्यादा से ऊपर बनाया गया है ताकि यह दूर से भी नजर आ सके। गुंबद के ऊपर चार आलमगीर शिखर हैं जो चार ओर से नजदीकी इलाकों को दिखाई देते हैं।

ताज महल की प्रमुख द्वार, जिसे दक्षिणी द्वार या बागदोरा के नाम से जाना जाता है, एक प्रचीन भारतीय वास्तुकला का अद्भुत उदाहरण है।

यह मुग़ल वास्तुकला के विभिन्न तत्वों को संग्रहित करता है, जैसे कि मुग़ल चारचौबीस आकार, नक्काशी, कला-शिल्प, और ग्रंथिबन्धन विचित्रता।

ताज महल के आस-पास के बागवानी क्षेत्र भी एक आकर्षक विशेषता है, जो चार बाग जैसे मदीना बाग, नूर जहाँ बाग है जो इसे और आकर्षक बनाता है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *